-->

Proton in Hindi : परिभाषा,खोज,द्रव्यमान तथा आवेश - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

proton in hindi

प्रोटोन क्या है ? | Proton kya hai 

प्रोटोन एकआवेश युक्त उप-परमाणु कण है जो परमाणु के नाभिक में न्यूट्रॉन के साथ पाया जाता है। इस पर इलेक्ट्रान के बराबर परिमाण लेकिन विपरीत प्रवृति का आवेश पाया जाता है अर्थात इलेक्ट्रान के विपरीत प्रोटोन धन आवेशित होता है। किसी परमाणु के अंदर इलेक्ट्रान तथा प्रोटोन की संख्या बराबर होती है इसलिए परमाणु उदासीन होते है। 

प्रोटोन की खोज | Discovery of Proton in hindi 

प्रोटोन की खोजकर्ता कौन है इसके लिए थोड़ा कन्फूशन रहता है। कुछ लोग मानते है की गोल्डस्टीन ने प्रोटोन की खोज किया था तो कुछ लोग मानते है की रुदरफोर्ड ने प्रोटोन की खोज किया था। ये दोनों लोग कही न कही प्रोटोन के खोज से सम्बंधित है लेकिन इसकी पूरी  सटीक जानकरी  सन 1920 में रदरफोर्ड ने प्रस्तुत किया। रुदरफोर्ड से पहले गोल्डस्टीन ने कैनाल किरणों के अध्ययन के आधार पर प्रोटोन की होने की संभावना व्यक्त किया था। अतः प्रोटोन की खोजकर्ता का श्रेय रुदरफोर्ड को माना जाता है। 

प्रोटोन की खोज कैसे हुई ?

गोल्डस्टीन , जे जे थॉमसन के कैथोड रे विकरण का अध्ययन कर रहे थे। उन्होंने देखा की जब निम्न दाब  पर विसर्ग नली में कैथोड तथा एनोड के बीच हाई वोल्टेज आरोपित किया जाता है तब कैथोड के पीछे एक चमकीला स्पॉट बनता है। चूँकि ये किरणे कैथोड के पीछे बनती है और एनोड से उत्पन्न होती है इसलिए थॉमसन ने इन्हे एनोड किरण का नाम दिया।  गोल्डस्टीन ने अपने प्रयोग के आधार पर इन किरणों को कैनाल किरण का नाम दिया और इनकी विशेषता को बताया जो निम्न है :
  • कैनाल किरणे एनोड से उत्पन्न होकर कैथोड की तरफ चलती है। 
  • ये सीधी रेखा में चलती है। 
  • कैनाल किरणों की चाल  कैथोड किरणों के चाल से कम होती है। 
  • कैनाल किरणे चुंबकीय तथा विधुतीय क्षेत्र से विचलित हो जाती है जिससे साबित होता है की ये आवेशित होती है। 
  • ये किसी वस्तु आयनित कर देती है। 

प्रोटोन का आवेश तथा द्रव्यमान 

प्रोटोन कोई काल्पिनक कण नहीं है।यह वास्तव में परमाणु के नाभिक में विद्यमान रहता है। इसका द्रव्यमान इलेक्ट्रान के द्रव्यमान से  ज्यादा होता है।  प्रोटोन का द्रव्यमान (Mp)तथा आवेश(Q) निचे दिया गया है। 
Mp = 1.66×10-27 kg
Qp =+1.6×10-19 C

प्रोटोन के गुण क्या है ?

प्रोटोन की विशेष्ता निम्नवत है :
  • प्रोटोन एनोड से उत्पन्न होता है। 
  • यह धनावेशित होता है। 
  • यह नाभिक में पाया जाता है। 
  • यह विधुतीय तथा चुंबकीय क्षेत्र से प्रभावित होता है। 
  • प्रोटोन तथा न्यूट्रॉन के सम्मिलित रूप को न्यूक्लियान कहते है। 

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter