-->

Active ,Reactive and Apparent Power In Hindi

किसी सर्किट द्वारा खपत (Consume) किये गए विधुत शक्ति को सर्किट के दोनों टर्मिनल के बीच के वोल्टेज तथा सर्किट में चलने वाली विधुत धारा को गुणा (Multiply) कर ज्ञात किया जाता है। यह तरीका AC तथा DC दोनों तरह के सर्किट के लिए बराबर सही है। 

लेकिन DC सर्किट के  तुलना में AC सर्किट में तीन तरह के इलेक्ट्रिकल पावर को कैलकुलेट किया जाता है। इस पोस्ट में हम AC सर्किट से जुड़े सभी तीनों तरह के पावर को जानेंगे। मैकेनिकल पावर ,इलेक्ट्रिकल पावर या मैग्नेटिक पावर ,सभी को वाट में ही मापा जाता है। 

Active Power 

AC सर्किट में Active Power को RMS वोल्टेज तथा करंट को एक साथ सर्किट के पावर फैक्टर से गुणा कर ज्ञात किया जाता है। किसी AC सर्किट में Active पावर ही useful कार्य में उपयोग होता  है। Active पावर को True Power या Real पावर भी कहा जाता है। यही वह पावर है जो सर्किट से जुड़े मोटर या अन्य उपकरण द्वारा  उपयोग  किया जाता है। Active पावर को वाट या किलोवाट में मापा जाता है। इसे सामान्यतः P  से सूचित किया जाता है। 

Active Power = VICosΦ वाट  
जहाँ  V तथा I सर्किट के दोनों टर्मिनल के बीच के RMS वोल्टेज तथा सर्किट में चलने वाले RMS करंट तथा CosΦ सर्किट का पावर फैक्टर है।  

Reactive Power 

AC सर्किट में Reactive कॉम्पोनेन्ट (i.e Inductor या Capacitor) होने के कारण सर्किट में चलने वाला विधुत धारा या या तो अप्लाई किये गए वोल्टेज से पिछड़(Lagging) जाता है या आगे(Leading) निकल जाता। इस तरह वोल्टेज तथा करंट में फेज डिफरेंस होने के कारण करंट के दो कॉम्पोनेन्ट(ICosΦ तथा  ISinΦ) हो जाते है।
किसी भी AC सर्किट से जुड़े Reactive कॉम्पोनेन्ट पावर फ्लो के दौरान आधे समय अंतराल के लिए AC सर्किट से जुड़े विधुत श्रोत से  विधुत ऊर्जा ग्रहण करते है तथा अगले आधे समय अंतराल  के दौरान विधुत श्रोत को विधुत ऊर्जा वापस करते है। अर्थात पुरे ऑपरेशन के दौरान आधे समय के लिए विधुत ऊर्जा श्रोत की तरह तथा अगले आधे समय के लिए लोड की तरह व्यवहार करते है। इसलिए AC सर्किट से जुड़े मशीन आवाज़ (Knocking) करती है। 
AC सर्किट में Reactive Power को करंट के Reactive कॉम्पोनेन्ट तथा अप्लाई किये गए वोल्टेज को गुणा कर कैलकुलेट  किया जाता है। इसको वोल्ट-एम्पेयर (VAr ) में मापा जाता है। इसे सामान्यतः Q से सूचित किया जाता है। 
Reactive Power = VISinΦ

Apparent Power 

AC सर्किट से जुड़े सभी तरह के पावर को Apparent Power कहा जाता है। AC सर्किट में चलने वाली विधुत धारा तथा  टर्मिनल के बीच के वोल्टेज के RMS वैल्यू को आपस में गुणा करने से सर्किट से जुड़े Apparent Power को  ज्ञात किया जाता  है। Apparent power ,Active power तथा Reactive Power के सदिश योग (Vector Sum) के बराबर होता है। Apparent Power का SI मात्रक वोल्ट-एम्पेयर (VA) होता है। इस सामान्यतः S से सूचित किया जाता है। 
Active Power plus Reactive Power = Apparent Power
इस डायग्राम में 
P = Active Power 
Q = Reactive Power तथा 
S = Apparent Power को सूचित करता  है। इनका सदिश योग ,AC Circuit  से सम्बंधित Apparent Power के बराबर होगा। जैसे
S = P +jQ 
S2 = P2 + Q2
यह भी पढ़े 

Related Posts

Post a comment

Subscribe Our Newsletter