विभिन्न प्रकार के चुंबकीय पदार्थ तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी -->

Search Bar

विभिन्न प्रकार के चुंबकीय पदार्थ तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

चुम्बकत्व किसे कहते है?

लौह अयस्क मैग्नेटाईट में लोहे के छोटे छोटे टुकड़ो को अपनी तरफ खीचने गुण होता है। लौह पदार्थ को अपनी तरफ खीचने वाले मैग्नेटाईट को मैगनेट अर्थात चुंबक तथा खीचने वाले इसके गुण को चुम्बकत्व (Magnetism)कहा जाता है।मैग्नेटिज्म शब्द की उत्पति एशिया के मैनेशिया नामक स्थान से हुई जहा पर यह बहुतायात में पाया जाता था।चुम्बकत्व के गुण के आधार पर चुंबकीय पदार्थो को तीन वर्गों में वर्गीकृत किया गया है जो निम्न है :-
  • प्रतिचुंबकीय पदार्थ (Diamagnetic Material)
  • अनुचुम्बकीय पदार्थ (Paramagnetic Material)
  • लौह्चुम्बकीय पदार्थ (Ferro-magnetic material) 

प्रतिचुंबकीय पदार्थ क्या है?

वैसे पदार्थ जो किसी चुंबकीय क्षेत्र में रखे जाने पर क्षेत्र के विपरीत दिशा में मामूली रूप से चुम्बकित हो जाते है तथा किसी शक्तिशाली चुंबक के नजदीक लाने पर प्रतिकर्षण का अनुभव करते है ,प्रतिचुम्बकीय पदार्थ कहलाते है। प्रतिचुम्बकीय पदार्थ को जब किसी असमान चुम्बकीय क्षेत्र में रखा जाता है तब ये प्रबल चुंबकीय क्षेत्र से दुर्बल चुंबकीय क्षेत्र के तरफ भागने लगते है। प्रतिचुम्बकीय पदार्थ का यह  गुण को प्रतिचुम्बकत्व कहलाता है। कुछ प्रतिचुम्बकीय पदार्थ निचे दिए गए है जल ,पारा ,नाइट्रोजन ,हाइड्रोजन ,जस्ता ,तांबा ,चांदी ,सोना ,नमक इत्यादि 

प्रतिचुंबकीय पदार्थ के गुण 

प्रतिचुम्बकीय पदार्थ के पास निम्न गुण होते है :-
  • प्रतिचुम्बकीय पदार्थ पर तापमान परिवर्तन  का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। 
  • प्रतिचुम्बकीय पदार्थ की आपेक्षिक चुम्बकशीलता 1से कम होती है। 
  • प्रतिचुम्बकीय पदार्थ की चुम्बकीय प्रवृति तापमान पर निर्भर नहीं करती है। 
  • प्रतिचुम्बकीय पदार्थो की चुम्बकीय प्रवृति बहुत कम लेकिन ऋणात्मक होती है। 
  • चुम्बकीय पदार्थ को असमान चुम्बकीय क्षेत्र में रखे जाने अधिक प्रबलता वाले क्षेत्र से कम प्रबलता वाले क्षेत्र के तरफ भागने लगता है। 

अनुचुम्बकीय पदार्थ क्या है ?

वैसे पदार्थ जो किसी चुंबकीय क्षेत्र में रखे जाने पर क्षेत्र के दिशा में मामूली रूप से चुम्बकित हो जाते है तथा किसी शक्तिशाली चुंबक के नजदीक लाने पर आकर्षण बल का अनुभव करते है ,अनुचुम्बकीय  पदार्थ कहलाते है।  अनुचुम्बकीय पदार्थ का यह  गुण को अनुचुम्बकत्व कहलाता है। अनुचुम्बकीय गुण परदर्शित करने वाले कुछ पदार्थ निचे दिए गए है :एल्युमीनियम ,सोडियम ,कापर क्लोराइड ,ऑक्सीजन प्लेटिनम ,मैगनीज इत्यादि 

अनुचुम्बकीय पदार्थ के गुण क्या होते है?

अनुचुम्बकीय पदार्थ में निम्न गुण पाए जाते है :
  • जब किसी अनुचुम्बकीय पदार्थ के छड को दो चुम्बकीय ध्रुव के बीच रखा जाता है तब छड घूमकर चुंबकीय क्षेत्र के समान्तर हो जाता है। 
  • अनुचुम्बकीय पदार्थ असमान चुम्बकीय क्षेत्र में कम तीव्रता वाले क्षेत्र से निम्न तीव्रता वाले क्षेत्र के तरफ भागते है। 
  • अनुचुम्बकीय पदार्थ की चुम्बकिय प्रवृति कम लेकिन धनात्मक होती है। 
  • अनुचुम्बकीय पदार्थ की आपेक्षिक चुम्बकशीलता 1से थोडा अधिक होता है .
  • तापमान बढ़ाने पर अनुचुंबकीय पदार्थ का चुम्बकत्व कम होने लगता है। 
  • अचुम्बकीय पदार्थ की चुम्बकीय प्रवृति चुम्बकन क्षेत्र के परिवर्तन से अप्रभावित रहती है। 

लौह चुम्बकीय पदार्थ क्या है ?

वैसे पदार्थ जो किसी चुम्बक के सिरे के पास लाए जाने पर तीव्रता से आकर्षित होते है तथा किसी चुंबकीय क्षेत्र में रखे जाने पर चुंबकीय क्षेत्र की दिशा में प्रबल रूप से चुम्बकित हो जाते है लौह चुंबकीय पदार्थ कहलाते है। लौह चुंबकीय पदार्थ के इस गुण को लौह चुम्बकत्व कहलाता है। लौह चुंबकीय गुण परदर्शित करने वाले कुछ पदार्थ निचे दिए गए है :लोहा,निकिल ,कोबाल्ट ,कोबाल्ट स्टील ,कोबाल्ट क्रोम स्टील ,टंगस्टन स्टील का मिश्रण 

लौह चुंबकीय पदार्थ के गुण 

लौह चुंबकीय पदार्थ में निम्न गुण पाए जाते है :
  • लौह चुंबकीय पदार्थ की चुंबकीय प्रवृति बहुत अधिक और धनात्मक होती है। 
  • तापमान बढ़ने पर इसका चुम्बकत्व कम होने लगता है तथा तापमान कम होने पर चुम्बकत्व बढ़ने लगता है। 
  • ये चुंबक द्वारा आकर्षित होने लगता है। 
  • लौह चुम्बकीय पदार्थ को चुम्बकीय क्षेत्र में रखने पर चुंबकीय क्षेत्र की दिशा के समान्तर हो जाता है। 
  • असमान चुम्बकीय क्षेत्र में रखे जाने पर लौह चुम्बकीय पदार्थ कम तीव्रता वाले क्षेत्र से अधिक तीव्रता वाले क्षेत्र के तरफ भागता है। 

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter