-->

Search Bar

Regenerative Braking : परिभाषा ,कार्य सिध्दांत तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

Regenerative Braking क्या होता है?

हम सभी जानते है कि चलती हुई गाडियों के पास गतिज उर्जा होता है। गाडियों को रोकने के लिए जब ब्रेक लगाया जाता है तब घर्षण द्वारा यह गतिज ऊर्जा उष्मीय तथा दुसरे उर्जा में परिवर्तित होकर वातावरण में चला जाता है। इस प्रकार यह उर्जा बर्बाद हो जाता है। पेट्रोल तथा डीजल से संचालित होने वाली गाडियों में ऐसा होता है। Regenerative Braking एक ऐसा ब्रेकिंग सिस्टम है जो ब्रेकिंग के दौरान गतिज उर्जा को विधुत उर्जा में परिवर्तित कर देता है और इस उर्जा को बैटरी में स्टोर कर लिया जाता है। यह ब्रेकिंग सिस्टम विधुत से संचालित होने वाली गाडियों में उपयोग किया जाता है। दुबारा जब गाड़ी को त्वरित करना होता है तब बैटरी में स्टोर हुई उर्जा को ,त्वरित करने के लिए उपयोग कर लिया जाता है। 
विधुत वाहन के अतिरिक्त इस प्रकार के ब्रेकिंग के उपयोग डीजल तथा पेट्रोल से चलने वाली वाहनों में भी किया जा रहा है। ब्रेकिंग के दौरान उत्पन होने वाली विधुत उर्जा  को इकठ्ठा कर ,दुसरे कार्यो में कर लिया जाता है। 

Regenerative Braking कैसे कार्य करता है?

हाइब्रिड कार या दुसरे विधुत वाहन जिनमे विधुत मोटर का उपयोग किया जाता है। इन वाहनों में विधुत मोटर दो दिशा या मोड़ में कार्य करता हैअर्थात यह कभी मोटर की तरह कार्य करता है तो कभी जनरेटर की तरह। जब कार को आगे की दिशा में त्वरित करना होता है तब यह मोटर की तरह कार्य करता है ,लेकिन जब इसे रोकन होता है तब यह जनरेटर की तरह कार्य करता है और बैटरी को चार्ज करता है। 

जब कार चालक को कार रोकना होता है तब स्विच या दुसरे तरीके से मोटर में प्रवाहित होने वाली विधुत धारा की दिशा को बदल देता है जिससे मोटर ,जनरेटर की तरह कार्य करने लगता है। और चलती हुई कार में निहित गतिज उर्जा जनरेटर को चलाने लगती है और विधुत ऊर्जा उत्पन्न होने लगता है। मोटर को चलाने की वजह से कार की गति धीमी होने लगती है। गाड़ी में आरोपित इस प्रकार के ब्रेकिंग की वजह से किसी भी प्रकार की ध्वनि की उत्पति नही होती है। इसलिए इसे सॉफ्ट ब्रेकिंग भी कहा जाता है। इस प्रकार के ब्रेकिंग में कार के पहियों पर आरोपित होने वाला बल ,अलग अलग समय में भिन्न भिन्न होता है। 

Regenerative Brakingमें किस प्रकार के मोटर का उपयोग किया जता है?

Regenerative Braking में एoसी तथा डीसी दोनों प्रकार के मोटर का उपयोग किया जाता है। जैसे 
  • डीसी सीरीज मोटर 
  • इंडक्शन मोटर 
मोटर को सुचारू रूप से चलाने के लिए तथा नियंत्रित करने के लिए विभिन्न प्रकार इलेक्ट्रॉनिक सर्किट का उपयोग किया जाता है। 

Regenerative Braking का उपयोग क्या है?

Regenerative Braking का उपयोग निम्न स्थान पर किया जाता है गति को स्मूथली नियंत्रित करने के लिए किया जाता है :-
  • विधुत वाहन में 
  • डीसी मोटर की गति नियंत्रित करने में 

Regenerative Braking के लाभ तथा हानि क्या है?

Regenerative Braking के निम्न लाभ तथा हानि है :-

लाभ 

  • इस प्रकार के ब्रेकिंग से इंधन की बचत होती है। 
  • इस प्रकार के ब्रेकिंग से उर्जा का लोस बहुत कम होता है। 
  • इससे  गाड़ी को स्मूथली नियंत्रित हो जाता है। 

हानि 

  • इसका मैन्टेनेंस खर्च ज्यादा होता है। 
  • डीजल गाड़ी में इसके लिए अलग से मोटर को इंस्टाल करना पड़ता है। 

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter