-->

Search Bar

बिजली बिल कैसे ज्ञात किया जाता है? - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

 बिजली बिल की गणना कैसे किया जाता है?

इंजीनियरिंग के विध्यार्थी या अन्य दुसरे प्रोफेशनल लोग जिनको तकनिकी ज्ञान होता है ,उनके लिए बिजली बिल की गणना करना कोई बड़ी बात नहीं होता है लेकिन वैसे लोग जिनके पास तकनिकी ज्ञान नहीं होता है।  उनके लिए बिजली बिल ज्ञात करना थोडा कठिन लगता है। यदि आप भी बिजली बिल ज्ञात करना नहीं जानते है तो आज के बाद से यह कार्य आपके लिए बिलकुल आसान हो जायेगा। हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बिजली बिल निकालना सिखायेंगे। चलिए इसकी शुरुवात एक उदहारण से करते है। 
electricity bill

उदाहरण :  मान लीजिये आपके घर में 50w के 15 बल्ब रात के वक्त प्रतिदिन 10 घंटा जलते है। इसके अतिरिक्त 100W के 5 पंखा प्रतिदिन 10 घंटा चलते है। यदि आपको बिजली देने वाली कंपनी का बिजली शुल्क रु.5 प्रति यूनिट है। तब आपके घर का एक महीने का बिजली बिल कितना होगा।  

 इस प्रश्न में दिया गया है 
पंखा की विधुत शक्ति   = P = 100 W प्रति पंखा 
पांच पंखों की कुल विधुत शक्ति  = 100 x 5 = 500 W 
बल्ब की विधुत शक्ति   = P =50W प्रति बल्ब 
15 बल्ब की कुल विधुत शक्ति  = 15 x 50 = 750 W
हम जानते है की किसी भी विधुत उपकरण द्वारा खपत विधुत उर्जा तथा उपकरण के क्षमता में निम्न सम्बन्ध होता है। 
उपकरण द्वारा खपत कुल विधुत उर्जा = (उपकरण की विधुत क्षमता)x(समय)
आपके घर में खपत कुल विधुत उर्जा = बल्ब द्वारा खपत उर्जा +पंखा द्वारा खपत कुल उर्जा 
आपके घर में खपत कुल विधुत उर्जा = (5 पंखा की कुल शक्ति )x(समय)+(15 बल्ब की कुल शक्ति)x(समय)
आपके घर में खपत कुल विधुत उर्जा = (500)x(10)+(750)x(10)
आपके घर में खपत कुल विधुत उर्जा = (5000)+(7500)
आपके घर में खपत कुल विधुत उर्जा = 12500 WH 
खपत उर्जा की मात्रा = (कुल विधुत उर्जा)/(1000) यूनिट 
खपत उर्जा की मात्रा = (12500)/(1000) यूनिट = 12.5 यूनिट ()यह प्रतिदिन खपत की गई बिजली की मात्रा है। 
इसलिए पुरे एक महीने में खपत कुल विधुत = 12.5 x 30 =375 यूनिट 
चूँकि एक यूनिट का शुल्क रु.5 है इसलिए पुरे एक महीने का बिजली बिल = 5 x 375 = रु.1875 

किलोवाट(KW) तथा किलोवाट ऑवर(KWH) क्या होता है ?

किलोवाट (KW)
वैसे हम सभी को मालूम है की शक्ति का SI मात्रक वाट होता है जिसे W से लिखा जाता है। जब W से पहले K लिख दिया जाता है तब इसका मतलब किलो वाट हो जाता है। किलोवाट (KW) वास्तव में शक्ति का ही मात्रक है। 1 KW का मतलब होता है 1000 वाट। चूँकि 1000 वाट लिखना थोडा बुरा लगता है इसलिए लोग इसे शार्ट में 1 KW लिखना पसंद करते है। वैसे जब किसी उपकरण की शक्ति दस लाख वाट (1000000W) हो जाती है तब इसे भी लिखना थोडा अजीब लगता है इसलिए इसे मेगा वाट अर्थात MW लिखा जाता है। इस तरह यदि पॉवर में शून्य की संख्या बढ़ता जाता है तब उसे शोर्ट में निम्न तरीके सेर लिखा जाता है :-
1000 W  = 1 KW (किलो वाट)
1000000 W =1 MW (मेगा वाट)
1000000000W = 1 GW (गीगा वाट)
1000000000000W = 1TW (टेरा वाट)
1000000000000000W= 1PW (पेटा वाट)

किलोवाटऑवर  (KWH)
जैसे हम जानते है की उर्जा तथा विधुत शक्ति में निम्न संबंध होता है :-
विधुत उर्जा = (विधुत शक्ति x समय )
यदि इस संबंध में शक्ति के लिए W तथा समय के लिए Hour अर्थात H लिखे तब यह कुछ ऐसा होगा 
 विधुत उर्जा = (W x H ) = WH 
यदि किसी विधुत उपकरण की शक्ति = 1000W  वाट हो तब इसे H घंटा के लिए उर्जा के रूप में इस तरह लिख सकते है। 
 विधुत उर्जा = (1000W x H ) = 1000WH 
विधुत उर्जा = (1000W x H ) = 1KWH जैसे हमने ऊपर देखा की 1000 को किलो अर्थात K लिखते है। 
अर्थात इससे यह निष्कर्ष निकलता है की KW विधुत शक्ति की इकाई है जो 1000 वाट शक्ति के बराबर होता है जबकि KWH विधुत उर्जा की मात्रक है जो 1000 watt -Hours (WH) के बराबर होता है। 

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter