-->

Search Bar

Z - Parameter In Hindi : परिभाषा , फार्मूला तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

 Z - Parameter क्या होता  है?

इसे Impedance पैरामीटर भी कहा जाता है। यह किसी भी रैखिक विधुत सर्किट का एक गुण होता है। इसके मदद से विधुत सर्किट के इनपुट तथा आउटपुट वोल्टेज तथा करंट को ज्ञात किया जाता है। Two Port Network में Z पैरामीटर इनपुट तथा आउटपुट में संबंध स्थापित करता है। इसे ओपन सर्किट पैरामीटर भी कहा जाता है। 

Z-पैरामीटर को कैसे ज्ञात किया जाता है ?

किसी भी two Port Network से सम्बंधित चार राशिय होती है :- दो  इनपुट आउटपुट वोल्टेज तथा दो इनपुट आउटपुट करंट। यदि इन सभी चार राशियों में से किसी दो को स्वतंत्र मान लिया जाए तो अन्य दो राशिया इन दो स्वतंत्र राशियों पर निर्भर करेंगी। इन सभी राशियों के बीच सम्बन्ध को निम्न दिए गए ब्लाक के मदद से समझेंगे। 
two port network in hindi
जैसे ऊपर के चित्र में (V1,I1) तथा (V2 ,I2) क्रमशः इनपुट तथा आउटपुट है। 
यदि इन सभी चार टर्मिनल में से केवल (V1,) तथा (V2) को स्वतंत्र राशि मान ले।  तब इन दोनों राशियों को करंट (I1) तथा (I2) के रूप में लिख सकते है। अर्थात (V1,) तथा (V2) को (I1) तथा (I2) के फलन के रूप में लिखा जा सकता है जैसे :-

V_{1} = f(I_{1},I_{2})

V_{2} = f(I_{1},I_{2})

यदि इसे हम समीकरण के  रूप में लिखे तो यह कुछ ऐसा होगा 

V_{1} = f(I_{1},I_{2}) = I_{1}Z_{11}+I_{2}Z_{12}

V_{2} = f(I_{1},I_{2}) = I_{1}Z_{21} + I_{2}Z_{22}

इन दोनों समीकरण में प्रयुक्त (I1) तथा (I2) के गुणांक (Z11,Z12,Z21एवं Z22) Z पैरामीटर कहलाते है। 

Z पैरामीटर का कैलकुलेशन कैसे किया जाता है?

यदि ऊपर के वोल्टेज समीकरण को लिखा जाए तो यह कुछ इस प्रकार से लिखा जा सकता है :-

V_{1} = I_{1}Z_{11}+I_{2}Z_{12}

V_{2} = I_{1}Z_{21} + I_{2}Z_{22}

यदि इन दोनों समीकरण में(I2​​​​​​​ = 0) रखे तो 

V_{1} = I_{1}Z_{11}+0 \times Z_{12} = I_{1}Z_{11}

Z_{11} = \frac{V_{1} }{I_{1}}

(इसे इनपुट सर्किट Impedance कहते है।)

इसी तरह दुसरे समीकरण से 

V_{2} = I_{1}Z_{21}+0 \times Z_{12} = I_{1}Z_{21}

Z_{21} = \frac{V_{2} }{I_{1}}

(इसे आउटपुट टर्मिनल से इनपुट टर्मिनल के तरफ  ट्रान्सफर  होने वाला Impedance कहते है )
यदि इन दोनों समीकरण में(I​​​​​​​ = 0) रखे तो 
V_{1} = I_{1}Z_{11}+I_{2}Z_{12}
V_{2} = I_{1}Z_{21} + I_{2}Z_{22}

V_{1} = 0\times Z_{11}+I_{2}Z_{12}=I_{2}Z_{12}
Z_{12}=\frac{V_{1}}{I_{2}}
(इसे इनपुट से आउटपुट का ओपन सर्किट Impedance कहा जाता है)
दुसरे समीकरण में (I​​​​​​​ = 0) रखने पर 
V_{2} = 0 \times Z_{21} + I_{2}Z_{22} = I_{2}Z_{22}
Z_{22}= \frac{V_{2}}{ I_{2}}
(इसे ओपन सर्किट आउटपुट Impedance कहा जाता है)

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter