-->

Search Bar

Voltage Source In Hindi - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

Source अर्थात श्रोत क्या होता है?

Source को हिंदी में श्रोत कहते है। यह एक ऐसा डिवाइस होता जो उर्जा के अन्य रूप जैसे यांत्रिक उर्जा,रसायनिक या उष्मीय उर्जा आदि को विधुत उर्जा में परिवर्तित करता है। आसान शब्दों में यह किसी विधुत परिपथ का एक सक्रिय सदस्य होता(Active Element) है जो विधुत परिपथ में विधुत उर्जा संचारित करता है जिससे विधुत परिपथ से जुड़े अन्य उपकरण संचालित होते है। विधुत परिपथ में उर्जा संचारित करने वाले श्रोत को दो भागो में वर्गीकृत किया गया है :-
  • Voltage Source 
  • Current Source 

Voltage Source क्या होता है?

Voltage Source विधुत उर्जा का  दो टर्मिनल वाला  डिवाइस होता है। यह विधुत उर्जा का ऐसा श्रोत होता है जिसके दोनों टर्मिनलों के बीच एक विभावातर हमेशा बना रहता है। इस विभवान्तर के कारण परिपथ में विधुत उर्जा का संचालन होता है।  Voltage Source को निम्न तरीके से कागज पर दिखाया जाता है :-
Voltage Source
Voltage Source को पुनः दो वर्गों में वर्गीकृत किया जाता है :-
  • Ideal Voltage Source 
  • Practical Voltage Source 

Ideal Voltage Source क्या होता है?

Ideal Voltage Source एक ऐसा दो टर्मिनल वाला डिवाइस होता है जिसके दोनों टर्मिनल के बीच विभवान्तर हमेशा नियत बना रहता है। इस Voltage Source के दोनों टर्मिनल के बीच किसी लोड को जोड़ने पर इसका विभव (Voltage) समय के साथ बदलता नहीं है। हमेशा नियत बना रहता है। ideal Voltage source को कागज पर निम्न तरीके से दिखाया जाता है:-
ideal voltage source

Practical Voltage Source क्या  होता है?

यह दो टर्मिनल वाला ऐसा वोल्टेज डिवाइस होता है जिसके दोनों टर्मिनलों के बीच विभवान्तर ideal Voltage source की तरह नियत नहीं रहता है। यह समय के साथ बदलता रहता है। जैसे ही किसी लोड को इसके दोनों टर्मिनलों के बीच जोड़ा जाता है वैसे ही इसका विभवान्तर अपने अधिकतम मान से थोडा घट जाता है और यह समय के साथ घटता रहता है। जैसे की नीचे ग्राफ में दिखाया गया है। 
Practical Voltage Source in hindi

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter