Norton theorem in Hindi : परिभाषा,हल करने के स्टेप उदहारण सहित - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी -->

Search Bar

Norton theorem in Hindi : परिभाषा,हल करने के स्टेप उदहारण सहित - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

Norton theorem क्या है ?

यदि किसी काम्प्लेक्स सर्किट में कोई लोड Resistance जुड़ा है तो इस सर्किट को एक ऐसे Simple सर्किट द्वारा Replace किया जा सकता है जिसमे केवल एक Current Source ,सर्किट से जुड़े लोड के Across ,Calculated सर्किट का कुल Resistance तथा Load Resistance  एक दूसरे के समान्तर जुड़ा हो।   
जैसा की नीचे दिए गए Circuit डायग्राम में दिखाया गया है।

norton theorem in hindi

यदि सर्किट में जुड़ा हुआ लोड Resistance R ,लोड के Across पुरे सर्किट का कुल Norton Equivalent Resistance (rn) तथा लोड टर्मिनल से प्रवाहीत Norton Equivalent Current (In) हो तो लोड से प्रवाहीत Load Current (I) को निम्न तरीके से ज्ञात किया जा सकता है :-
norton theorem in hindi

 Norton Theorem Apply करने का Process 

यदि आप नीचे बताये गए प्रत्येक स्टेप को फॉलो कर ,Circuit एनालिसिस के दौरान Norton Theorem का उपयोग करेंगे तो आप किसी भी काम्प्लेक्स नेटवर्क को बड़े ही आसानी से Solved कर पाएंगे। 
  • सबसे पहल सर्किट से जुड़े हुए लोड Resistance को रिमूव करे तथा लोड टर्मिनल को शार्ट सर्किट कर दे। 
  • KCL या KVL के मदद से शार्ट किये गए लोड टर्मिनल से प्रवाहीत शार्ट सर्किट करंट को ज्ञात करे। यह  Norton Equivalent Current (In)  होगा। 
  • लोड टर्मिनल को Open Circuit करे तथा सर्किट में जुड़े सभी Voltage Source को उसके आंतरिक प्रतिरोध से तथा सभी Current Source को Open Circuit कर लोड टर्मिनल के Across पुरे सर्किट का प्रतिरोध ज्ञात करे। यह  Norton Equivalent Resistance (rn) होगा। 
  • ऊपर के स्टेप में ज्ञात किये गए सभी पैरामीटर के मदद से नीचे दिए गए सूत्र का उपयोग करते हुए लोड से प्रवाहीत विधुत धारा को ज्ञात करे। 

उदाहरण के लिए नीचे दिए सर्किट को लेते है जिसमे टर्मिनल CD के Across एक लोड Resistance जुड़ा हुआ है। इसके अतिरिक्त सर्किट में (r2) तथा ( r3) , अलग से दो Resistor जुड़े हुए है। सर्किट में एक Voltage Source भी जुड़ा हुआ है जिसका आंतरिक प्रतिरोध (r1) है।  

norton theorem in hindi

पहले स्टेप के अनुसार सर्किट से लोड Resistor को रिमूव करने तथा शार्ट सर्किट के बाद सर्किट कुछ  ऐसा दिखेगा। जिसमे (In) Norton Equivalent Current है। 



Norton Equivalent Current ज्ञात करने के बाद Voltage Source को उसके आंतरिक Resistance से Short Circuit करे तथा टर्मिनल CD के Across Norton Equivalent Resistance ज्ञात करे। 

norton theorem

Norton Equivalent resistance ज्ञात करने के बाद सर्किट को इस प्रकार Simple सर्किट में कन्वर्ट करे 


ऊपर दिया गए सर्किट में केवल एक लोड Resistor के अलावा Norton Equivalent Current source तथा  Norton Equivalent Resistance एक दूसरे के साथ समांतर क्रम में जुड़े हुए है तथा लोड से प्रवाहीत विधुत 
धारा निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात की जाएगी 


Pintu Prasad
I am an Electrical Engineering graduate who has five years of teaching experience along with Cooperate experience.

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter