-->

Search Bar

Transformer : Voltage Regulation In Hindi - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

Transformer Voltage Regulation In Hindi 

दुनिया में जितने भी इलेक्ट्रिकल मशीन तथा दूसरे इलेक्ट्रिकल इंस्ट्रूमेंट बनाये गए ,वे सभी एक नियत वोल्टेज (Constant Voltage) पर बढ़िया से काम करते है।

यानी एक इलेक्ट्रिकल मशीन को Proper तरीके से काम करने के लिए उसके टर्मिनल पर लगाए गए वोल्टेज को Practical रूप से नियत (Constant) रहना चाहिए। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं होता है।

जब किसी वोल्टेज Source (Battery,Generator) के टर्मिनल के Across कोई लोड जोड़ा जाता है तब Source  के आंतरिक प्रतिरोध (Internal Resistance) के कारण वोल्टेज Source का टर्मिनल वोल्टेज थोड़ा कम हो जाता है।
Internal Resistance के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे। 

यह घटना ट्रांसफार्मर के साथ भी  होती है। जब ट्रांसफार्मर के साथ किसी लोड  को जोड़ा जाता है तब ट्रांसफार्मर के सेकेंडरी साइड टर्मिनल का वोल्टेज (Voltage ) थोड़ा कम हो जाता है। ट्रांसफार्मर के सेकेंडरी साइड टर्मिनल के नो लोड वोल्टेज (No Load Voltage ) तथा फुल लोड वोल्टेज (Full load Voltage) के अंतर को ही वोल्टेज रेगुलेशन कहते है।
ट्रांसफार्मर के वोल्टेज रेगुलेशन से यह जानकारी मिलती है कि जब ट्रांसफार्मर को किसी लोड के साथ जोड़ा जायेगा तब इसका टर्मिनल वोल्टेज कितना कम हो सकता है। जब यह जानकारी हो जाए की लोड जोड़ने पर इस ट्रांसफार्मर का वोल्टेज 2% ,3% आदि कम होगा तो उसके हिसाब से ही हम लोड को ट्रांसफार्मर से जोड़ते है। Voltage Regulation को हमेशा प्रतिशत में ज्ञात किया जाता है तथा यह ट्रांसफार्मर के Name Plate  पर भी प्रतिशत में व्यक्त रहता है।

Calculation ऑफ़ वोल्टेज रेगुलेशन 

उदहारण के लिए मान ले किसी ट्रांसफार्मर के name Plate पर No Load Voltage 300V  दिया गया है और Voltage Regulation 2% है तो इसका मतलब यह हुआ की जब इस ट्रांसफार्मर को किसी लोड के साथ जोड़ा जायेगा तब इसक टर्मिनल वोल्टेज No Load voltage से अधिकतम (300 x 0.02) = 6V कम होगा अर्थात 294V होगा।

किसी ट्रांसफार्मर की वोल्टेज Regulation ज्ञात करने के लिए नीचे दिए गए फार्मूला का उपयोग किया जाता है। Voltage Regulation को हमेशा Full Load Voltage तथा No load Load से ही ज्ञात किया जाता है।

Voltage Regulation In Hindi
जहां 
Vnl  = No Load Voltage
Vfl = Full Load Voltage
V.R = Voltage Regulation

यह भी पढ़े 

सिंगल फेज AC मोटर के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे। 
ट्रांजिस्टर के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे। 
पावर फैक्टर के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे। 
डायोड के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करे। 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter