-->

Search Bar

Two Port Network In Hindi: परिभाषा ,प्रकार तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

Post a Comment

 Two Port Network क्या होता है?

जब किसी जटिल इलेक्ट्रिकल सर्किट के वोल्टेज तथा करंट के व्यवहार का अध्ययन करना होता है तब उस सर्किट के इनपुट तथा आउटपुट में एक संबंध स्थापित कर दिया जाता है। इस प्रकार प्राप्त संबंध के मदद से वोल्टेज तथा करंट को बारी बारी से परिवर्तित कर उसमे होने वाले परिवर्तन का अध्ययन किया जाता है। किसी सर्किट में अनगिनत इनपुट दिया जा सकता है और इसके साथ ही सर्किट से अनगिनत आउटपुट भी लिया जा सकता है। जैसे एक इलेक्ट्रिकल एम्पलीफायर मशीन में अनगिनत इनपुट टर्मिनल होते है (जैसे माइक टर्मिनल ,पॉवर इनपुट टर्मिनल आदि) वैसे आउटपुट में अनगिनत साउंड बॉक्स के लिए आउटपुट टर्मिनल होते है। इस प्रकार के इलेक्ट्रिकल सिस्टम या सर्किट जिसमे अनगिनत इनपुट तथा आउटपुट टर्मिनल होते है उन्हें N- Port नेटवर्क कहा जाता है। वैसे इलेक्ट्रिकल नेटवर्क जिसमे चार अर्थात दो जोड़ा इनपुट आउटपुट टर्मिनल होता है वैसे नेटवर्क को Two Port Network कहा जाता है। अर्थात टू पोर्ट नेटवर्क में एक जोड़ा इनपुट टर्मिनल तथा एक जोड़ा आउटपुट टर्मिनल होता है। 
two port network in hindi

Two Port Network Parameter क्या होते है?

टू पोर्ट नेटवर्क से जुड़े या संबंधित सभी पैरामीटर जो इस सर्किट के इनपुट तथा आउटपुट को प्रभावित करते है ,tow port network parameter कहलाते है। वैसे बहुत ऐसे पैरामीटर होते है जो नेटवर्क को प्रभावित करते है लेकिन इनमे से कुछ महत्वपूर्ण पैरामीटर होते है जो निम्न है :-
  • Z पैरामीटर 
  • Yपैरामीटर 
  • पैरामीटर 
  • T’ पैरामीटर 
  • h-पैरामीटर 
  • g-पैरामीटर 

Z पैरामीटर क्या होता है?

यह इलेक्ट्रिकल नेटवर्क का गुण है जिसके मदद से रैखिक विधुत (Linear Electrical Network) सर्किट के व्यवहार का अध्ययन किया जाता है। इसेप्रतिघात पैरामीटर (Impedance Parameter) या Open सर्किट  पैरामीटर भी कहा जाता है।  इसके मदद से किसी विधुत सर्किट के इनपुट तथा आउटपुट वोल्टेज तथा करंट को ज्ञात किया जाता है। 

Y पैरामीटर क्या होता है?

यह भी विधुत नेटवर्क का गुण है जिसके मदद से रैखिक विधुत (Linear Electrical Network) सर्किट के व्यवहार का उलेख  किया जाता है। इसे admittance  Parameter या short Circuit पैरामीटर कहा जाता है।  इसके मदद से किसी विधुत सर्किट के इनपुट तथा आउटपुट वोल्टेज तथा करंट को ज्ञात किया जाता है। 

T पैरामीटर क्या होता है?

T पैरामीटर को ट्रांसमिशन लाइन पैरामीटर या ABCD पैरामीटर कहा जाता है। इसमें दो टर्मिनल Sending End  टर्मिनल तथा अन्य दो टर्मिनल  Receiving End टर्मिनल होता है। इस पैरामीटर के उपयोग से ट्रांसमिशन लाइन के अभिलक्षण का अध्ययन किया जाता है। इसमें  Sending End के Voltage तथा Current , Reveiving  End के वोल्टेज तथा करंट पर निर्भर करता है।

T' पैरामीटर क्या होता है?

यह भी एक प्रकार का ट्रांसमिशन लाइन पैरामीटर होता है। इसे Inverse ट्रांसमिशन पैरामीटर या A'B'C'D' कहते है। इसमें Sending End के Voltage तथा Current , Receiving End के वोल्टेज तथा करंट पर निर्भर करता है। 

h पैरामीटर क्या होता है?

इसे हाइब्रिड पैरामीटर भी कहा जाता है। यह वैसे विधुत सर्किट के व्याख्या करने के लिए उपयोग किया जाता है जिसमे Z तथा Y पैरामीटर विधुत सर्किट के लिए ज्ञात नहीं किया जा सकता है। अधिकांशतः H पैरामीटर का उपयोग ट्रांजिस्टर के कार्य सिद्धांत के ब्याख्या करने के लिए किया जाता है।  इसलिए यह डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स सर्किट में बहुत उपयोगी होता है। 

g - पैरामीटर क्या होता है?

यह h पैरामीटर का उल्टा होता है। इसे Inverse hybrid पैरामीटर कहते है। इसमें प्राइमरी  वोल्टेज (V1)तथा सेकेंडरी करंट (I2) एक स्वतंत्र राशी होता है तथा प्राइमरी करंट (I1)तथा सेकेंडरी वोल्टेज (V2) डिपेंडेंट राशि होता है। 

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter