-->

Search Bar

विधुत शक्ति : परिभाषा ,प्रकार तथा फार्मूला - हिंदी इलेक्ट्रिक डायरी

Post a Comment

 विधुत शक्ति क्या होता है?

वैसे फिजिक्स में कार्य करने की दर को शक्ति है। किसी विधुत सर्किट में कार्य करने की दर को विधुत शक्ति कहा जाता है। दुसरे भाषा में बोले तो विधुत परिपथ में प्रवाहित विधुत उर्जा के दर को विधुत शक्ति कहा जाता है। विधुत उर्जा का मुख्य श्रोत विधुत जनरेटर या बैटरी होता है। विधुत उर्जा की एन्ट्रापी बहुत कम होता है इसलिए इसे आसानी से एक स्थान से दुसरे स्थान पर भेजा जा सकता है। इसके अतिरिक्त इसे उर्जा के दुसरे रूप में आसानी से बदला जा सकता है। 

विधुत शक्ति कितने प्रकार की होती है?

विधुत उर्जा को उत्पादित करने वाली उर्जा श्रोत के आधार पर दो प्रकार से वर्गीकृत किया जा सकता है :-
  • दिष्ट विधुत शक्ति (DC Power)
  • प्रत्यावर्ती विधुत शक्ति (AC Power)
विधुत शक्ति को व्यासायिक रूप में यूनिट में बेचा जाता है। जो की उर्जा का एक बड़ा मात्रक है। किसी मशीन द्वारा खपत विधुत उर्जा की मात्रा को उस मशीन के शक्ति (किलोवाट) तथा संचालित समय को आपस में गुणा कर ज्ञात किया जाता है। मशीन द्वारा खपत विधुत शक्ति को मापने के लिए वाटमीटर का उपयोग किया जाता है। 

विधुत शक्ति को ज्ञात करने का सूत्र क्या होता है?

किसी विधुत लोड या परिपथ के विधुत शक्ति को उसमे प्रवाहित होने वाली विधुत धारा (I)तथा वोल्टेज (V)को आपस में समय (t) के साथ गुणा कर पुनः समय (t) भाग देकर ज्ञात किया जाता है। जैसे की निचे दिखाया गया है। 
प्रवाहित विधुत धारा = I 
आरोपित वोल्टेज = V 
संचालित समय = t 
विधुत शक्ति = P 

P = \frac{VIt}{t}=VI

P = VI

उदहारण : 

यदि किसी  विधुत परिपथ में 5 A की विधुत धारा प्रवाहित हो रही है। यदि विधुत परिपथ के दोनों सिरों के बीच 50 V की वोल्टाता आरोपित किया गया है तब विधुत परिपथ की विधुत शक्ति ज्ञात करे। 

ऊपर दिए गए सूत्रानुसार 

P = VI=50V \times 5 A = 250 VA = 250 W

P = 250 W

अर्थात विधुत परिपथ की विधुत शक्ति = 250 W होगी। 

विधुत शक्ति का मात्रक क्या होता है?

यदि हम विधुत शक्ति के मात्रक को ज्ञात करने की बात करे तो इसे हम इसके परिभाषा से उत्पन्न कर सकते है। जैसे विधुत शक्ति , विधुत उर्जा तथा समय का अनुपात है। इसलिए इसका मात्रक भी विधुत उर्जा के मात्रक जूल (J ) तथा समय के मात्रक सेकंड (s) का अनुपात होगा। जैसे 
शक्ति का मात्रक = (विधुत उर्जा का मात्रक)/(समय का मात्रक)
शक्ति का मात्रक = (जूल)/(सेकंड)
शक्ति का मात्रक = J/s
J/s को वाट कहा जाता है जिसे अंग्रेजी के W द्वारा लिखा जाता है। अर्थात विधुत शक्ति का SI मात्रक वाट होता है। वाट विधुत शक्ति एक छोटा मात्रक होता है। इसलिए विधुत मशीन के शक्ति को किलोवाट(KW),मेगावाट (MW) या गीगावाट (GW) में दिखाया जाता है। 
एक किलोवाट (1KW) = 1000 W 
एक मेगावाट (1MW) = 1000000 W 
एक गीगा वाट (1GW) = 1000000000 W 

दिष्ट शक्ति (DC Power) क्या होता है?

किसी डीसी परिपथ में प्रवाहित विधुत शक्ति को डीसी विधुत शक्ति कहते है। डीसी परिपथ में प्रवाहित विधुत धारा तथा आरोपित वोल्टेज को आपस में गुणा (Multiply) कर ज्ञात किया जाता है। जैसे की निचे दिखाया गया है 
P = V \times I
आरोपित वोल्टेज = V 
प्रवाहित विधुत धारा =  I 

प्रत्यावर्ती विधुत शक्ति (AC Power) क्या होता है?

AC परिपथ में प्रवाहित विधुत शक्ति को AC विधुत शक्ति कहते है। AC पॉवर को तीन प्रकार से वर्गीकृत किया जाता है :-
(1) एक्टिव पॉवर (Active Power)
(2) रीएक्टिव पॉवर (Reactive Power)
(3) अप्परेंट पॉवर (Apparent Power)

अप्परेंट पॉवर (Apparent Power) क्या होता है?

यह AC विधुत परिपथ से संबंधित विधुत धारा के RMS वैल्यू तथा RMS वोल्टेज के गुणनफल (product) के बराबर होता है। इसे S द्वारा सूचित किया जाता है। इसका SI मात्रक वोल्ट -एम्पियर (Volt-Amp) होता है। इसे निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात किया जाता है। 
S =V_{RMS}I_{RMS}

एक्टिव पॉवर (Active Power) क्या होता है?

यह AC विधुत परिपथ से संबंधित विधुत धारा (I) , वोल्टेज तथा पॉवर फैक्टर (Cos𝜙)के गुणनफल (product) के बराबर होता है। इसे P द्वारा सूचित किया जाता है। इसका SI मात्रक W होता है। इसे निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात किया जाता है। 
P = VICos\phi

रीएक्टिव पॉवर (Reactive Power) क्या होता है?

यह AC विधुत परिपथ से संबंधित विधुत धारा (I) , वोल्टेज तथा  (Sin𝜙)के गुणनफल (product) के बराबर होता है। इसे Q द्वारा सूचित किया जाता है। इसका SI मात्रक VAR होता है। इसे निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात किया जाता है। 
P = VISin\phi
एक्टिव ,रिएक्टिव तथा अप्परेंट पॉवर में निम्न संबंध होता है :-
{S} = P+jQ
S^{2} = P^{2}+Q^{2}

यह भी पढ़े 

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter