-->

Search Bar

Magnet In hindi : परिभाषा .प्रकार तथा उपयोग - हिंदी इलेक्ट्रिकल डायरी

1 comment

 चुम्बक क्या होता है?

वैसा पदार्थ जो चुंबकीय पदार्थ जैसे लोहा ,कोबाल्ट ,स्टील आदि को अपने तरफ आकर्षित करता है उसे चुम्बक कहते है। चुम्बक को अंग्रेजी में मैगनेट कहा जाता है। चुम्बक अपने चारी तरफ चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न करता है ,जब कोइ  चुंबकीय पदार्थ इस क्षेत्र के संपर्क में आता है तब वह चुम्बक की तरफ आकर्षित होने लगता है। चुंबक का दुसरे पदार्थ को अपने तरफ खीचने का गुण चुम्बकत्व कहलाता है। 

चुंबक कितने प्रकार का होता है?

चुंबक उपलब्धता के आधार पर दो प्रकार का होता है जो निम्न है :-
  • प्राकृतिक चुम्बक (Natural magnet)
  • कृत्रिम चुंबक (Artificial magnet)

प्राकृतिक चुम्बक क्या होता है?

वैसा चुंबक जो प्राकृतिक से पाया जाता है उसे प्राकृतिक चुंबक कहते है। लोडस्टोन एक प्राकृतिक चुंबक है। यह लोहा ,कोबाल्ट आदि हल्के चुम्बकीय पदार्थ को अपनी तरफ आकर्षित करता है। लोडस्टोन ,लोहा का अयस्क होता है। इसका रासायनिक सूत्र होता है। प्रकृति से प्राप्त चुम्बक की चुंबकीय शक्ति बहुत कम होती है। इसलिए इसका ज्यादा उपयोग नहीं होता है। 

कृत्रिम चुंबक चुम्बक क्या होता है?

आज के आधुनिक समय में चुंबक का उपयोग बहुत ज्यादा मात्रा में होने लगा है। चूँकि प्रकृति से प्राप्त चुंबक की चुंबकीय शक्ति बहुत कम होती है इसलिए इसका उपयोग ज्यादा नहीं किया जाता है। ज्यादा शक्ति वाला चुंबक ,कृत्रिम तरीके से तैयार किया जाता है। अर्थात इंसान द्वारा बनाया गया शक्तिशाली चुम्बक कृत्रिम चुम्बक कहलाता है कृत्रिम चुम्बक दो प्रकार  का होता है:-
  • स्थायी चुम्बक (Permanent Magnet)
  • अस्थाई चुम्बक (Temporary Magnet)

स्थायी चुम्बक क्या होता है?

जब किसी चुम्बकीय पदार्थ को एक शक्तिशाली चुम्बक के क्षेत्र में रख दिया जाता है तब वह एक चुम्बक की तरह कार्य करने लगता है। इस प्रकार चुम्बक बनाने की प्रक्रिया चुम्बकन कहलाती है। किसी चुम्बकीय पदार्थ को चुम्बकित करने पर यदि उसका चुम्बकत्व लम्बे समय के लिए बना रहता है तब उसे स्थाई चुम्बक कहा जाता है। 

अस्थायी चुम्बक क्या होता है?

वैसे चुम्बकीय पदार्थ जो अपना चुम्बकीय गुण तब दिखाते है जब तक वे किसी शक्तिशाली चुम्बक के चुंबकीय क्षेत्र में स्थिर रहते है।लेकिन बाहरी चुमबकीय क्षेत्र को हटा लेने से वे अपना चुंबकीय गुण खो देते है तब ऐसे पदार्थ अस्थाई चुम्बक कहलाते है। 

चुंबकीय ध्रुव क्या होता है?

चुंबक के सतह पर स्थिर वह बिंदु जहा चुंबकीय शक्ति सबसे अधिक होता है। उस बिंदु को चुंबकीय ध्रुव कहा जाता है। चुंबकीय ध्रुव को अंग्रेजी में Magnetic Pole कहा जाता है। यह दो प्रकार का होता है :-
  • उत्तरी ध्रुव  (North  Pole)
  • दक्षिणी ध्रुव (South Pole)

चुम्बक के गुण क्या होते है?

चुंबक के पास निम्न गुण होता है :-
  • चुम्बक चुंबकीय पदार्थ को अपनी तरफ आकर्षित करता है। 
  • जब किसी चुम्बक को स्वतंत्र रूप से लटकाया जाता है तब वह हमेशा उत्तर दक्षिण दिशा में ही रूकता है। 
  • चुंबक के सामान ध्रुव के बीच प्रतिकर्षण तथा विपरीत ध्रुव के बीच आकर्षण होता है। 
  • चुंबक में कभी भी एक ध्रुव संभव नहीं है। अर्थात ध्रुव हमेशा उतरी तथा दक्षणि में विद्यमान होते है। 

यह भी पढ़े 

1 comment

Post a Comment

Subscribe Our Newsletter